Monday, May 13, 2013

कौन सी कविताएं

(प्रिय कविताओं में से एक नरेश सक्सेना की यह कविता, साथ में एडवर्ड मुंच
का चित्र 'मेलनकली'.)
जैसे चिड़ियों की उड़ान में
शामिल होते हैं पेड़
क्या कविताएं होंगी मुसीबत में हमारे साथ?

जैसे युद्ध में काम आए
सैनिक की वर्दी और शस्त्रों के साथ
ख़ून में डूबी मिलती है उसके बच्चे की तस्वीर
क्या कोई पंक्ति डूबेगी ख़ून में?

जैसे चिड़ियों की उड़ान में
शामिल होते हैं पेड़
मुसीबत के वक़्त कौन सी कविताएं होंगी हमारे साथ
लड़ाई के लिए उठे हाथों में
कौन से शब्द होंगे?

7 comments:

  1. व्‍यवस्‍था परिवर्तन के शब्‍द होंगे........बहुत बढ़िया।

    ReplyDelete
  2. शब्द तो होंगे पर क्या पहुँच पाएंगे उन तक हाथ ...
    बहुत प्रभावी रचना ...

    ReplyDelete
  3. अक्षय तृतीया की शुभकामना
    आप गुलेरी जी की नातिन हैं आपके कलम को समर्पित
    चिड़ियों के उड़ान में शामिल है शाख आसमां हरदम
    खून और युद्ध का प्रेम से बैर रहे चलो न आगाज़ करें

    ReplyDelete
  4. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टि की चर्चा कल १४ /५/१३ मंगलवारीय चर्चा मंच पर राजेश कुमारी द्वारा की जायेगी आपका वहां स्वागत है ।

    ReplyDelete

  5. मुसीबत में आत्म बल ही काम आता है
    डैश बोर्ड पर पाता हूँ आपकी रचना, अनुशरण कर ब्लॉग को
    अनुशरण कर मेरे ब्लॉग को अनुभव करे मेरी अनुभूति को
    latest post हे ! भारत के मातायों
    latest postअनुभूति : क्षणिकाएं

    ReplyDelete
  6. वर्तमान साहित्य के कविता विशेषांक में छपी थी। मुझे भी पसंद आई थी और याद रह गई थी।

    ReplyDelete
  7. आनंदमय, बेहतरीन, लाजवाब और विचारों की सटीक अभिव्यक्ति | आभार

    कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    ReplyDelete

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...